ढाई साल की बच्ची को अगवा किया फिर गाला घोंट कर मार डाला.

उत्तर प्रदेश, अलीगढ़: हटना दिल दहला देने वाली है. शायद आप ने कभी सोचा भी नहीं होगा की पैसो के वजह से नन्ही सी बच्ची की कोई हत्या करेगा.

घटना गत 31 जून की है जब ढाई साल की बच्ची के गुम होने की शिकायत थाने में कराई गयी. पर इसके बावजूद दिनों तक इसके बारे में कोई सुराग नहीं मिला. बच्ची के घर वालो ने शिकायत की थी की मेरी ढाई साल की बेटी ट्विंकल लापता है.

5 जून को ट्विंकल के पड़ोस में, कूड़े में एक बच्ची लाश मिलती है जिसे लोग पहचान करते हैं की ये वही बच्ची है. लाश की हालत ऐसी हो गयी थी की उसे पहचान पाना भी कठिन हो पा रहा था. स्थानीय लोगो को पहले शक हुआ की बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ है पर बाद में पुलिस ने बताया की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार बच्ची को गाला दबा कर मारा गया है, इसके साथ रेप की कोई सबूत नहीं मिले है.

ट्विंकल अब हमारे बीच नहीं है

हम आप को बताना चाहेगे की अभी तक के सूचना के अनुसार, इस हत्या के आरोप में दो जाने को गिरफ्तार किया गया है. बताया गया है कि आरोपी और बच्ची के पिता के बीच पैसो को लेके कुछ विवाद था. आरोपी ने बच्ची के पिता से 40 हज़ार रुपये लिए थे जिसमे से 35 हज़ार लौटा भी दिया था. पर 5 हज़ार को लेकर विवाद हो रही थी. दोनो आरोपियों ने गुनाह काबुल लिया है. उसने बताया कि उसने बच्ची को गला दबा के मार डाला और फिर उसे छिपा दिया

अलीगढ़ पुलिस ने ट्वीट कर बताया

मृतक ट्विंकल के शव के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म का होना नही पाया गया है। रूपये के लेन-देन को लेकर बालिका का गला घोटकर हत्या की गई है। अभि0 जाहिद व असलम को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। अभि0 पर NSA के तहत कार्यवाही की जा रही है। पुलिस द्वारा FTC कोर्ट में पैरवी की जायेगी

अलीगढ़ पुलिस

स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय संयोजक योगेंद्र यादव लिखते हैं-

शुक्रिया @aligarhpolice पैसों के झगड़े में एक बेगुनाह बच्ची कि हत्या अपने आप में अमानवीय हरकत है। उसपर रेप की झूठी अफवाह फैला कर इसे हिन्दू मुसलमान का रंग देने वाले लोगों की इंसानियत को क्या हुआ है? सच्ची खबर को शेयर करें और माहौल बिगड़ने से बचाएं।

जैसे ही ये खबर सोशल मीडिया में आयी लोगो ने इसे आपने अपने लहज़े में लिखा, नन्ही जान की हत्या को भी लोगो के अपना धंधा बनाना सुरु कर दिया. इसी सिलसिये में लोग इतने नीचे गिर गए की इसे हिन्दू-मुस्लिम के नज़र से भी देखने लग गए.

Leave a Reply

×
×

Cart